सफरनामा

07 फ़रवरी, 2012

5 टिप्‍पणियां:

  1. खंडित सरलरेखीय अध्यात्म

    उत्तर देंहटाएं
  2. अनिच्छा एक अजीब से खुमार की तरह, कई बार अवसाद की तरह और कई बार लत की तरह इसी तरह लंबी खिंचती चली जाती है।

    उत्तर देंहटाएं